संगीत संस्था || Music Classes || Guitar classes || Flute classes || Music academies || Tabla classes

शेयर करें |

Music classes

दोस्तों आपने देखा होगा कि आपके कई दोस्त या आप खुद भी कई बार कोई म्यूजिक इंस्ट्रूमेंट खरीद लेते हैं जैसे गिटार या पियानो और कितने हफ्ते महीने या साल भी अगर ho जाएं तो भी आपको महसूस होता है कि जो सीखने की जो स्पीड है या नॉलेज है वह नहीं बढ़ा है. 1 साल से, 2 साल से, 5 साल से, मैंने कई लोगों को देखा है।
दोस्तों, जो 5 साल से भी गिटार बजा रहे हैं, लेकिन जब वह भी बजाते हैं तो उनको देखकर के लगता है कि जैसे उन्होंने पिछले हफ्ते शुरू किया होगा तो ऐसा क्यों होता है? क्यों कुछ लोग म्यूजिक बहुत जल्दी नहीं सीख पाते हैं? कैसे वह म्यूजिक सीखने की स्पीड बढ़ाएं? इन सभी चीजों को ध्यान में रखकर, आज मैं आपके लिए एक आर्टिकल लिखने जा रहा हूंतो दोस्तों, सबसे पहले मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि बहुत सारे लोग हैं, जो यह पूछते हैं कि मैं कितने दिन में गिटार बजाना सीख जाऊंगा या में कितने दिन में पियानो बजाना सीख जाऊंगा, तो दोस्तों इस बात का जवाब देने से पहले मैं पूछना चाहूंगा, कि आप कितना टाइम गिटार या पियानो या, और भी जो म्यूजिक इंस्ट्रूमेंट आप बजाना चाह रहे हो, उसको दे सकते हो? और अगर आपका जवाब होगा कि मैं 4 घंटे/ 5 घंटे/ 6 घंटे और मैक्सिमम टाइम दे सकता हूं तो मुझे आपको बताने में खुशी होगी कि आप 6 महीने में बहुत ही अच्छा म्यूजिक सीख जाओगे. तो चलिए आपको क्या करना होगा? मैं आगे आपके लिए 10 टिप्स लिख रहा हूं और वह कुछ इस तरह से हैं।

संगीत सीखने के बेहतरीन तरीके (How to learn music)

  • पहली चीज ध्यान देने वाली है कि आपको म्यूजिक Theory का अच्छा नॉलेज होना चाहिए, म्यूजिक Theory अगर अच्छी है तो आप बहुत ही जल्दी म्यूजिक सीख सकते हैं. अगर आपको पूरे कंसेप्ट पता है म्यूजिक Theory के तो आपको बहुत ही आसानी होगी इन सब चीजों को समझने में।
  • आपको हमेशा लालायित रहना पड़ेगा सीखने के लिए. यानी कि आपके मन में इच्छा होनी चाहिए एक Curiosity होनी चाहिए कि मुझे म्यूजिक सीखना है और जब आप में वह इच्छा होगी तो आप खुद ब खुद सीख कर चले जाओगे.
  • अगला पॉइंट है हमेशा म्यूजिक के प्रति आपको डेडीकेटेड या समर्पित रहना होगा, और धैर्य भी रखना होगा. अक्सर देखा जाता है कि लोग कुछ दिन तक गिटार बजाते हैं और फिर छोड़ देते हैं और थोड़े दिन बाद में वह सब कुछ भूल जाते हैं, और जब अगली बार गिटार उठाते हैं तो फिर उन्हें जीरो से स्टार्ट करना पड़ता है. इसके लिए आपको हमेशा प्रैक्टिस करनी होगी. आपको धैर्य रखना पड़ेगा.
  • आपको यह बात स्वीकार करनी पड़ेगी की प्रेक्टिस से ही आप म्यूजिक सिख सकते हैं. आपको प्रैक्टिस अधिक से अधिक करनी पड़ेगी. जितना आप समय दे सकते हैं उतना आपको देना पड़ेगा और नतीजा कुछ ही दिन में आप के सामने आ जाएगा.
  • कहीं से भी आप को सीखने को मिल रहा है तो आप सीखिए. जरूरी नहीं कि आप कहीं कोचिंग में सीखते हैं और बस वही के नोट्स के साथ में चिपके हुए हैं. आपको अगर और कहीं से भी सीखने को मिल रहा है, जैसे इंटरनेट, tv, ब्लॉग्स तो आप वहां से भी सीखिए
  • किसी एक इंस्ट्रूमेंट से आप शुरुआत कीजिए. चाहे वह गिटार हो, पियानो हो, या फ्लूट हो और जब आप उसके पूरे नियम समझ जाओ, तब फिर अगला इंस्ट्रूमेंट बजाने के लिए ले सकते हो।
  • आपको स्केल और कोड्स सीखनी पड़ेगी. स्केल और कोड्स बहुत ही महत्वपूर्ण हैं जो एक संगीतकार को आनी चाहिए.
  • आपको हमेशा कम से कम तीन-चार घंटे या 1 हफ्ते में लगभग 25 से 30 घंटे प्रैक्टिस करनी चाहिए और अगर आप इतनी प्रेक्टिस कर रहे हो तो मैं यकीनन कह सकता हूं कि आप 6 महीने में बहुत ही अच्छे संगीतकार बन सकते हैं.
  • आपको कभी भी हतोत्साहित नहीं होना है. कोई कुछ भी कहे, कोई कितना ही नेगेटिव बात करें, कोई कितना ही कहे कि आप नहीं सीख सकते, आप नहीं सीख सकते, लेकिन फिर भी आपको प्रैक्टिस करते रहना है.. और यही सफलता की कुंजी है।
  • अपने आप में विश्वास रखिए: कोई कुछ भी कहे आपके बारे में, आप वही सोचिए जो आप सोचते हैं, कोई कितना भी कहे कि आप नहीं सीख सकते म्यूजिक, लेकिन आपको पता है कि आप सीख सकते हैं। आप भी एक अच्छे संगीतकार बन सकते हैं। और हो सकता है वह समय बहुत ही जल्दी आने वाला
    हो।
यह भी पढ़ें – वाद्यों के प्रकार ||TYPES OF INSTRUMENTS

भारतीय उपमहाद्वीप के उत्तरी क्षेत्रों के शास्त्रीय संगीत कोहिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत के रूप में जाना जाता है। इसे उत्तरभारतीय शास्त्रीय संगीत या हिंदुस्तानी में शास्त्रीसंगीत भी कहा जासकता है। शास्त्रीय संगीत सीखने से तनाव दूर करने में मदद मिलसकती है, मस्तिष्क की कार्यप्रणाली में सुधार हो सकता है, अनुशासन का निर्माण हो सकता है, सांस्कृतिक समझ में मददमिल सकतीहै, आत्म-अभिव्यक्ति सक्षम हो सकती है, सुनने केकौशल में सुधार हो सकता है। शास्त्री संगीत की मूल बातें जाननेके लिए इस कक्षा में शामिल हों।

स्वर अलंकार” का आरोही और अवरोही क्रम में अभ्यास करें
शास्त्रीय गायन में “राग” और कुछ परिभाषाओं के बारे में जानें
शास्त्रीय गीत सीखें और गाएं
एक शांत जगह से क्लास मे शामिल हों।
आप अपने सवाल गाइड से पूछ सकते हैं।
सुनिश्चित करें कि आपका इंटरनेट काम कर रहा है और आप अपना ब्राउज़र खोल सकते हैं।

संगीत का भविष्य (Carrier in music)

आपको पता होना चाहिए की आने वाले समय में संगीत का बहुत हि अच्छा करियर होने वाला है | उसके पीछे की वजह यह है की इस छेत्र में अभी भी बहुत ही कम कम्पटीशन है जिसके वजह से नौकरियोँ में आप अपनी जगह आसनीं से सुनिश्चित केर सकते हैं | अभी के समय में लोग यह चाहते हैं की वो किसी ऐसी विषय को चुने जो की आसानी से उनका करिएर बनाने में मदद केरे | इसलिए संगीत एक ऐसा विषय या आपके जीवन के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण साबित हो सकता है |

संगीत कैसे सीखें (Music lesson)

आज के समय में या यूँ कहिये के पुरातन काल से ही इसके महत्त्व को समझते हुए हर यूनिवर्सिटी में इसे एक विषय के रूप में रखा गया है जो की कोई भी विद्यार्थी आसानी से इसे चुन कर अपना ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री को प्राप्त कर सकता है |

इसके अलावे यदि कोई ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन किसी अन्य विषय से होने के कारन उन्हें ये लगता है की वो ये नहीं केर सकते तो ऐसा बिलकुल भी नहीं है क्यूंकि बहुत सारे यूनिवर्सिटी या ओपन यूनिवर्सिटी में Diploma in music जैसे विषय को लागु किया गया है जो आप केर सकते हँ |

यदि कोई इस तरह की डिग्री के अलावे सिर्फ शौक के लिए Music learning करना चाहता है तो बड़े ही आसानी से अपने आस पास के Music institute में जाकर सिख सकता है |

संगीत संस्था (Best music institute)

बड़े कॉलेजों और यूनिवर्सिटी तो हमेसा हि किसी भी कोर्स को करने के लिए सर्वथा उत्तम मने जाते हैं लेकिन यदि किसी को किसी भी वजह से इनमे एडमिसन ना मिलने पैर वो गूगल सर्च केर सकते हैं जिसमे सो सामान्यतः Best music institute near me या Best music classes आदि लिखकर सर्च केर सकते हैं |

चयन कैसे करें (How to select best music classes)

जब आपको अलग अलग संस्थाओं के नाम आपके स्क्रीन पर आते हैं तो बहुत से लोगों को एक अच्छी और विस्वस्नीय संस्था को चुनना सबसे बड़ी चुनौती होती है जबकी आज ऐसा बिलकुल भी नहीं है | आप बड़े ही आसानी से हर संस्था की रिव्यु रेटिंग देखकर यह समझ सकते हैं की कौन सी संस्था आपके लिए सबसे उपुक्त शाबित हो सकती है |

अच्छी संस्था (Best music institute website)

इसके अलावे यदि किसी को रिव्यू रेटिंग के बावजूद और ज्यादा सुनिश्चित करना है तो वो उसीकी वेबसाइट पैर जाकर enquiry कर सकता है और विश्वनीय उत्तर मिलने के बाद एडमिस्शन ले सकता है |


शेयर करें |

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published.